बैंक ने 84 हजार लोगों को बिना उनकी मंजूरी के लोन दे दिया

कुछ लोगों ने रिजर्व बैंक के पास ये शिकायत की है. इस शिकायत में उन्होंने बताया है की बिना उनकी मंजूरी के उन्हें लोन दे दिया गया है. ये लापरवाही इसी साल मई के महीने में इंडसइंड बैंक द्वारा की गई है.

जानकारी के लिए बता दें की इंडसइंड बैंक ने इस बात को सही बताया है, मगर उनका ये भी कहना है की ये एक तकनिकी खामी की वजह से हुआ था. 84 हजार लोगों को गलती से 2 दिन के भीतर लोन दे दिया गया था. इस खामी को ठीक भी कर लिया गया है.

जिसने इंडसइंड बैंक की शिकायत की है उसने इसे ‘एवरग्रीनिंग’ नाम दिया है. बैंक ने इसपर ऐतराज जताया है क्योकि

एवरग्रीनिंग का मतलब डिफॉल्ट की कगार पर पहुंच चुके कर्ज का रिन्यूअल कर उस फर्म को नया लोन देने से होता है

बैंक ने आगे ये भी कहा की ये दावा करना गलत है, हमने ऐसा कुछ नहीं किया है. जो भी हुआ है वो एक तकनिकी गड़बड़ है.

इस मामले में जो भी अपडेट होंगे वो हम आपको बताते रहेंगे. लेटेस्ट न्यूज़ पाने के लिए, आप हमें फॉलो करते रहें.

Treading

#Good Morning

Here we have put together some good morning wishes for your loved ones.

#Good Morning

Good morning, love! The sun is as bright as you today.

More Posts